पेशेवर उपकरण

हर क्रिप्टो एक अलग एसेट

हर क्रिप्टो एक अलग एसेट
Cryptocurrency पर GST लगाने की तैयारी में सरकार, जानें-क्या होगा निवेशकों पर असर, कितना लगेगा टेक्स?

Digital Currency vs UPI: आ गया डिजिटल रुपया, कैसे होगा इस्तेमाल, कितना है यूपीआई से अलग, जानिए हर सवाल का जवाब.

Bitcoin BEP2

Bitcoin BEP2 के बारे में आज मार्केट में क्या माहौल है?

Bitcoin BEP2 के बारे में आपको आज कैसा लग रहा है? परिणाम देखने के लिए वोट दें

BNB Smart Chain (BEP20)

Bitcoin BEP2 कीमत से जुड़ा विवरण

इस बारे में और जानें :- Bitcoin BEP2

काम के रिसोर्स

अगर आप क्रिप्टो की दुनिया में नए हैं, तो Bitcoin, Ethereum और अन्य क्रिप्टोकरेंसी खरीदना शुरू करने के बारे में जानने के लिए Crypto.com यूनिवर्सिटी और हमारे हेल्प सेंटर का इस्तेमाल करें।

अपने पसंद की फ़िएट करेंसी में Bitcoin BEP2 की मौजूदा कीमत लाइव देखने के लिए, आप इस पेज के ऊपरी दाएँ कोने में मौजूद Crypto.com के कन्वर्टर फ़ीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Bitcoin BEP2 का प्राइस पेज Crypto.com प्राइस इंडेक्सका हिस्सा है जो टॉप क्रिप्टोकरेंसी के लिए प्राइस हिस्ट्री, प्राइस टिकर, मार्केट कैप और लाइव चार्ट को फ़ीचर करता है।

Bitcoin BEP2

Bitcoin BEP2 के बारे में आज मार्केट में क्या माहौल है?

Bitcoin BEP2 के बारे में आपको आज कैसा लग रहा है? परिणाम देखने के लिए वोट दें

BNB Smart Chain (BEP20)

Bitcoin BEP2 कीमत से जुड़ा विवरण

इस बारे में और जानें :- Bitcoin BEP2

काम के रिसोर्स

अगर आप हर क्रिप्टो एक अलग एसेट क्रिप्टो की दुनिया में नए हैं, तो Bitcoin, Ethereum और अन्य हर क्रिप्टो एक अलग एसेट क्रिप्टोकरेंसी खरीदना शुरू करने के बारे में जानने के लिए Crypto.com यूनिवर्सिटी और हमारे हेल्प सेंटर का इस्तेमाल करें।

अपने पसंद की फ़िएट करेंसी में Bitcoin BEP2 की मौजूदा कीमत लाइव देखने के लिए, आप इस पेज के ऊपरी दाएँ कोने में मौजूद Crypto.com के कन्वर्टर फ़ीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Bitcoin BEP2 का प्राइस पेज Crypto.com प्राइस इंडेक्सका हिस्सा है जो टॉप क्रिप्टोकरेंसी के लिए प्राइस हिस्ट्री, प्राइस टिकर, मार्केट कैप और लाइव हर क्रिप्टो एक अलग एसेट चार्ट को फ़ीचर करता है।

क्या टैक्स लगाने से वैध हो जाएंगी Crypto हर क्रिप्टो एक अलग एसेट Currency? क्यों लिया गया यह फैसला, जानें- सीबीडीटी ने क्या कहा

हर क्रिप्टो एक अलग एसेट Cryptocurrency पर GST लगाने की तैयारी में सरकार, जानें-क्या होगा निवेशकों पर असर, कितना लगेगा टेक्स?

वर्चुअल डिजिटल एसेट या क्रिप्टोकरेंसी पर टैक्स (Tax on Crypto Currency) लगाने से आयकर विभाग (Income Tax Department) को पता चलेगा कि देश में कौन से लोग इसमें निवेश कर रहे हैं और इसकी ट्रेडिंग (Trading) किस स्तर तक और कहां-कहां हो रही है। हालांकि क्रिप्टो (Crypto) या डिजिटल एसेट (Digital Asset) पर टैक्स ((Tax) लगाने का अर्थ यह कतई नहीं है कि ऐसी संपत्ति वैध हो जाएगी। यह बात केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBT) के चेयरमैन जेबी मोहपात्रा ने कही। दरअसल, बजट में टैक्स का एलान होने के बाद ऐसी बातें उठने लगी हैं कि यह क्रिप्टो या डीवीए को वैध करने का सरकार का यह पहला कदम हो सकता है।

Digital Currency vs UPI: यूपीआई (UPI) से कैसे अलग है डिजिटल करेंसी

Digital Currency vs UPI: आज हर व्यक्ति डिजिटल लेनदेन के नाम पर यूपीआई (UPI) या नेटबैंकिंग का इस्तेमाल करता है। जिसने देश को कैशलेश करने में बड़ी भूमिका निभाई है। अब ज्यादातर लोगों के मन में सवाल है कि डिजिटल करेंसी यूपीआई (UPI) से किस तरह अलग है।

पीडब्ल्यूसी इंडिया के पार्टनर और पेमेंट्स ट्रांसफॉर्मेशन लीडर, मिहिर गांधी बताते हैं, 'डिजिटल रुपया अपने आप में अंडरलाइंग भुगतान मोड होगा जिसका उपयोग करेंसी/कैश के बदले डिजिटल भुगतान के लिए किया जा सकेगा। UPI और IMPS आदि जैसे भुगतान फंड ट्रांसफर करने के लिए अंतर्निहित मुद्रा/नकदी का उपयोग करते हैं। इस मामले में, यह उम्मीद की जाती है कि डिजिटल रुपया से भुगतान सहज लेनदेन सुनिश्चित करने के लिए हो सकता है। वर्तमान में, UPI भुगतान मौजूदा मुद्रा नोटों के डिजिटल समकक्ष का उपयोग करके किया जाता है। इसका मतलब है कि UPI के जरिए ट्रांसफर किया गया हर रुपया फिजिकल करेंसी से चलता है।

Digital Currency vs UPI: यूपीआई (UPI) की मौजूदगी के बीच इसकी क्या है जरूरत?

Digital Currency vs UPI: डिजिटल रुपए की घोषणा के बाद से एक असमंजस की सी स्थिति लगातार बनी हुई है कि जब पहले से यूपीआई (UPI), भीम या अन्य डिजिटल भुगतान माध्यम उपलब्ध हैं तो फिर 'डिजिटल रुपए' की जरूरत क्या है?

तो इसका जवाब हम आपको बता दें कि हर क्रिप्टो एक अलग एसेट जब कोई ग्राहक यूपीआई (UPI), भीम या अन्य डिजिटल माध्यमों से भुगतान करता है तो इस स्थिति में बैंक को उसके हर रुपए की लेन-देन के लिए भौतिक करेंसी का मेंटेनेंस करना अनिवार्य होता है। जबकि डिजिटल करेंसी केंद्रीय बैंक के जरिए अधिकारिक मुद्रा होगी, जिसके लिए बैंकों को भौतिक मुद्रा के मेंटेनेंस की दुविधा नहीं रह जाएगी। इससे आरबीआई करेंसी की छपाई और वितरण पर होने वाले हजारों करोड़ रुपए के खर्च को भी बचा सकेगी।

Digital Currency हर क्रिप्टो एक अलग एसेट vs UPI: इसके अलावा एक बड़ा अंतर यह भी है कि यूपीआई (UPI) अन्य डिजिटल भुगतान माध्यमों से किए गए डिजिटल लेनदेन में बैंकिंग सिस्टम का उपयोग शामिल है, जबकि डिजिटल रुपए में बैंकिंग सिस्टम का उपयोग शामिल नहीं होगा और यह वित्तीय संस्थानों के बजाय केंद्रीय बैंक आरबीआई की प्रत्यक्ष गारंटी होगी। अर्थात कोई भी गलत ट्रासेक्शन होने पर किसी बैंक से कोई संपर्क नहीं हर क्रिप्टो एक अलग एसेट करना पड़ेगा। जिम्मेदारी केंद्रीय बैंक की होगी।

क्रिप्टो करेंसी में निवेश के नाम पर सवा करोड़ गंवाए

देहरादून। क्रिप्टो करेंसी में निवेश कराने के नाम पर ठगों ने एक व्यक्ति के करीब सवा करोड़ रुपये हड़प लिए। शिकायत पर स्पेशल टास्क फोर्स ने मुख्य आरोपित को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। टीम को ठगी में किसी बड़े गिरोह के शामिल होने की आशंका है।
क्रिप्टो करेंसी में निवेश कर मोटा मुनाफा कमाने का झांसा देकर जनता को ठगने का एक और मामला सामने आया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि कुछ दिन पूर्व दिनेश कुमार गुप्ता नाम के व्यक्ति ने साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में शिकायत दी। जिसमें बताया कि उन्हे सौरभ मैंदोला नाम के एक व्यक्ति ने खुद को फाइनेंस-प्लानर एंड एडवाइजर कंपनी का मालिक बताते हुए क्रिप्टो करेंसी में निवेश कराने की बात कही। क्रिप्टो करेंसी के जरिये आरोपित ने उन्हें मोटा मुनाफा कमाने का झांसा दिया और एक करोड़ 14 लाख रुपये हड़प ले लिए। इसके बाद आरोपी ने उन्हें पैसे नहीं लौटाए और न ही निवेश कराया। शिकायत पर साइबर क्राइम थाने में मुकदमा दर्ज कर छानबीन के लिए निरीक्षक त्रिभुवन रौतेला को सौंपा गया। इस दौरान आरोपी के मोबाइल नंबर, बैंक खातों व संबंधित ट्रेडिंग कंपनियों की जानकारी जुटाई गई। जिस पर सौरभ मैंदोला निवासी टर्नर रोड की ओर से शिकायतकर्ता के ट्रेडिंग खातों के पासवर्ड बदलने व नई आइडी बनाकर धोखाधड़ी करने की पुष्टि हुई। इसके बाद सौरभ मैंदोला को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। जिसमें एसटीएफ को महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त हुईं। आरोपित के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई कर गिरोह की भूमिका को लेकर भी पूछताछ जारी है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया हर क्रिप्टो एक अलग एसेट कि मामले में क्रिप्टो करेंसी में आरोप पत्र न्यायालय में दाखिल किया जाएगा।

रेटिंग: 4.59
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 778
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *