ऑनलाइन ट्रेडिंग कोर्स

व्यापार मार्ग

व्यापार मार्ग
टर्टुक, लद्दाख
इसकी खड़ी घाटियों, तेज हवा और आकर्षण से व्यापार मार्ग परे, लद्दाख एक छोटे से समुदाय का सांस्कृतिक केंद्र भी है। व्यापार मार्ग इतना ही नहीं, यह पाकिस्तान की सीमा शुरू होने से पहले अंतिम भारतीय गांव तुर्तुक का घर भी है। गिलगित-बाल्टिस्तान सीमा पर श्योक नदी के तट पर स्थित यह स्थान कहीं अधिक शांतिपूर्ण है, तुर्तुक 1971 के युद्ध के बाद भारत का हिस्सा बन गया है। सीमा के दोनों ओर के गाँव के बारे में कुछ रोचक बातें सुनने के लिए आप गाँव में घूम सकते हैं।

व्यापार मार्ग

Hit enter to search or ESC to close

जरा संभलकर! ये हैं भारत के कुछ आखिरी 5 गांव, जिनके दो कदम आगे बढ़ते ही शुरू हो जाते हैं कई देशों के बॉर्डर

ट्रेवल न्यूज़ डेस्क, उत्तर से दक्षिण तक 3,000 किमी से अधिक की लंबाई, पूर्व से पश्चिम तक लगभग 3,000 किमी और 7,000 किमी से अधिक की तटरेखा के साथ, भारत अपनी स्थलाकृति के मामले में वास्तव में अद्वितीय है। हर किलोमीटर पर आपको एक अलग ऊंचाई, नजारे और संस्कृति देखने को मिलेगी। देश में कई शहर ऐसे हैं, जहां का शोर और शराब आपको जरूर परेशान कर देगी, तो एक बार देश के किसी ऐसे गांव में जाइए और देखिए जहां की प्रकृति और शांति आपका दिल और दिमाग खुश कर देगी। भारत में कुछ गांव ऐसे हैं जिनकी लाइनें दूसरे देशों से जुड़ी हुई हैं। यानी दो कदम चलने व्यापार मार्ग के बाद ही दूसरे देश की सीमा दिखाई देगी। आइए आपको बताते हैं उन जगहों के बारे में।

सहारनपुर के प्रबुद्ध सम्मेलन में CM योगी, 243 विकास परियोजनाओं का किया लोकार्पण/शिलान्यास

Priyanka Sahu

प्रबुद्ध सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए CM योगी ने कहा, "मैं बुद्धिजीवियों, प्रगतिशील किसानों, शिक्षकों, चिकित्सकों से संवाद के लिए यहां पर आया हूं। अब प्रदेश में विकास तेजी से हो रहा है। पहले की सरकारों में हर दूसरे दिन दंगे होते थे, लेकिन आज प्रदेश दंगा मुक्‍त हो चुका है। आज यूपी में अपराधनहीं है बल्कि वह निवेश को आकर्षित कर रहा है। चुनाव के ठीक पहले जिले में मां शाकंभरी के नाम पर विश्‍वविद्यालय की नींव रखी थी, आज उसका भव्य भवन बन रहा है।''

जल्‍द ही सहारनपुर एयर कनेक्टिविटी से जुड़ जाएगा। हमने विकास में कोई भेदभाव नहीं किया गया। हर बस्ती और हर घर को शुद्ध पेयजल से जोड़ा जाएगा। सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता रही है। वहीं, पिछली सरकार ने परिवारवाद को बढ़ावा दिया था।

बाहरी आएंगे, शहर सजाएंगे, बापट चौराहे से बीआरटीएस तक सजेगा पूरा मार्ग

इन्दौर। नगर निगम पर अब तक यह आरोप लगते व्यापार मार्ग रहे हैं कि उसका कोई भी प्रोजेक्ट समय पर पूरा नहीं होता, लेकिन बापट से और बीआरटीएस के हिस्सों में तेजी से न केवल काम चल रहे हैं, बल्कि अफसरों की टीम ने वहां सडक़ किनारे ही कुर्सियां लगवा ली हैं और उनकी निगरानी में सारे काम हो रहे हैं। कार्यक्रम स्थल के बाहर फुटपाथों और उसके आसपास के मार्गों को विदेशी पैटर्न पर सजाया जा रहा व्यापार मार्ग है और डिवाइडरों में भी आकर्षक पौधे और गमले लगाने का काम चल रहा है।

पहली बार हुआ ऐसा, अफसरों ने सडक़ किनारे डाला डेरा
ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर के बाहर फुटपाथों पर न केवल आकर्षक इंटरलाकिंग लगाई जा रही है, बल्कि पहली बार ऐसी इंटरलाकिंग भी लगाई जा रही, जिसमें आकर्षक हरी घास भी लगी है। वहां आसपास के कई हिस्सों को सजाकर रंग-बिरंगे पॉट में देशी-विदेशी पौधे लगाए जा रहे हैं। इन सब कामों की निगरानी के लिए अपर आयुक्त अभय राजनगांवकर, सिटी इंजीनियर अशोक राठौर, दिलीपसिंह चौहान, पी.सी. जैन से लेकर कई अधिकारी सडक़ किनारे बैठे रहते हैं।

यह भी पढ़ें | इंदौर में आयेंगे जी 20 सम्मेलन के मेहमान–सीएम

पिछले व्यापार मार्ग 15 दिनों से नगर निगम विमानतल के सामने के हिस्से के साथ-साथ कई अन्य क्षेत्रों में तेजी से सौंदर्यीकरण के कार्य करा रहा है। खस्ताहाल सडक़ों की मरम्मत हो रही है और अधूरे प्रोजेक्ट तेजी से पूरे कराने के लिए मानिटरिंग चल रही है। सबसे व्यापार मार्ग ज्यादा फोकस बापट चौराह से ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर जाने वाले मार्ग पर है। वहां दोनों छोर पर आकर्षक पेंटिंग खाली दीवारों पर की गई है और साथ ही सडक़ के बीचोंबीच नई स्टाइल के डिवाइडर बनाए जा रहे हैं। इसके अलावा खाली पड़े सडक़ के हिस्सों में म्यूरल लगाने के लिए कई कलाकारों से न केवल चर्चा हो चुकी है, बल्कि वहां निरीक्षण के बाद म्यूरल तैयार कराने का काम भी चल रहा है। वेस्ट से बेस्ट थीम पर आधारित म्यूरल्स अलग-अलग हिस्सो में और चौराहों के टर्निंग पर लगाए जाएंगे। महापौर पुष्यमित्र भार्गव और जनकार्य समिति प्रभारी राजेंद्र राठौर इस पूरे मामले की लगातार मानिटरिंग कर रहे हैं। पूरे सडक़ के दोनों छोर पर सुबह से लेकर शाम तक जेसीबी से लेकर व्यापार मार्ग डंपरों और मजदूरों की टीमों का आवागमन लगा हुआ है।

आज का धनु राशिफल, 21 नवंबर 2022: व्यापार में होगा तगड़ा मुनाफा, स्वास्थ्य के प्रति रहें सतर्क

Updated Nov 21, 2022 | 09:11 AM IST

aaj ka Dhanu Rashifal

21 नवंबर 2022 का धनु राशिफल

Aaj Ka Dhanu Rashifal 17 November 2022, Sagittarius Horoscope Today in Hindi: काम और कारोबार व्यापार मार्ग के प्रति आपको ज्यादा ध्यान देना होगा क्योंकि बहुत सारी अस्थिरता नजर आ रही है. या तो आपने अपनी इच्छाओं को इस रूप व्यापार मार्ग से बना दिया है या हालात ही ऐसे बने हैं जिसके चलते लगता है कि हर कुछ परिवर्तनशील है.

किसी भी मतभेद की वजह से भी हालात बिगड़ सकते हैं और अस्थिरता पैदा हो सकती है इसलिए आपको अपनी विनम्रता भी बनानी है और बहुत सारा धैर्य भी बनाए रखना है ताकि किसी भी तरह के मतभेद से बचा जा सके. कारोबार मे बढ़ते हुए खर्चो की वजह से भी अस्थिरता पैदा हो सकती है और उस ओर व्यापार मार्ग भी ध्यान तो देना ही पड़ेगा.

अब भारत के साथ यह देश भी करेगा मुक्त व्यापार

भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौते को ऑस्ट्रेलियाई संसद की मंजूरी मिल गयी है। ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस ने खुद ट्वीट करके यह जानकारी दी है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रिश्तों की मजबूती को लेकर तमाम प्रयास हो रहे हैं। बीते दिनों जी-20 शिखर सम्मेलन के मौके पर ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस ने कहा था कि उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात में ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच मजबूत आर्थिक सहयोग समझौते को अंतिम रूप देने पर चर्चा की है।

पीएम व्यापार मार्ग अल्बनीस ने दी जानकारी
अब ऑस्ट्रेलिया की संसद ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मुक्त व्यापार समझौते को मंजूरी दे दी है। यह समझौता संसद से पारित किए जाने की जानकारी ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस ने ट्वीट कर दी। उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपनी तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा कि भारत के साथ ऑस्ट्रेलिया का मुक्त व्यापार समझौता संसद से पारित हो गया है। इससे पहले पिछले सप्ताह ऑस्ट्रेलिया के व्यापार मंत्री डॉन फैरेल ने कहा था कि भारत के साथ व्यापार समझौता ऑस्ट्रेलियाई सेवा कंपनियों और पेशेवरों के लिए भारतीय बाजार में प्रवेश करने का एक बड़ा अवसर होगा।

रेटिंग: 4.86
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 482
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *